Loading

MCom

Master of Commerce

MCom के सभी प्रश्न-पत्रों का अवधारणात्मक अध्ययन कराना ताकि प्रत्येक विषयवस्तु को गहराई से समझा जा सके।

–   MCom के विषय के साथ NET/SET के पहले पेपर की अलग से कक्षा लगाकर तैयारी करवाना। परिष्कार के अनेक विद्यार्थी MCom करने से पहले ही NET/JRF हो जाते हैं।

–   MCom के साथ-साथ IAS, RAS आदि प्रतियोगिता परीक्षाओं की भी नि:शुल्क तैयारी करवाना। कॉलेज में Maths, Reasoning, English Grammer & Comprehension, General Studies, Economics, Geography, History, Political System की अतिरिक्त नि:शुल्क कक्षाएँ चलती हैं, विद्यार्थी उनका लाभ लेते हैं।

–   कक्षाएँ Interactive होने से तथा GD, Debate, Quizzes, Drama, Dance,  क्लब गतिविधि, Subject Council में विषय विशेष की गतिविधियाँ, विशेष व्याख्यान, प्रतियोगिताएँ आदि के कारण विद्यार्थी के चहुँमुखी व्यक्तित्व का विकास होता है और उसका मौलिक अभिव्यक्ति कौशल बहुत मजबूत हो जाता है जो उसे आगे न केवल प्रतियोगिता परीक्षाओं के इंटरव्यू में काम आता है बल्कि जीवन के हर क्षेत्र की सफलता में उसका प्रभाव दिखाई देता है।

–   MCom के विद्यार्थियों को विभिन्न प्रकार के शोधकार्य से जोड़ा जाता है ताकि उसका मस्तिष्क समस्या-समाधान करनेवाला बने और के बाद यदि Ph.D करना चाहे तो उसके लिए भी वह तैयार हो सके। परिष्कार में MCom विद्यार्थी की शोध-क्षमता का बहुत विकास होता है।

–   परिष्कार से M.Com. करनेवाले विद्यार्थी में निम्नलिखित क्षमताओं का विकास होता है—

  • विश्लेषणात्मक क्षमता
  • शोध करने की क्षमता
  • प्रबंधन क्षमता
  • समस्या-समाधन क्षमता
  • स्तरीय भाषा में लेखन क्षमता
  • साक्षात्कार देने की क्षमता

   परिष्कार कॉलेज ऑफ़ ग्लोबल एक्सीलेंस राजस्थान विश्वविद्यालय से संबद्ध है अत: उसी के पाठ्यक्रमानुसार शिक्षण एवं परीक्षा का आयोजन होता है, यहाँ निम्नलिखित विषयों में MCom का पाठ्यक्रम संचालित है—

   MCom निम्नलिखित विषयों में उपलब्ध हैं—

  1. ABST
  2. Adm.
  3. EAFM

 

प्रवेशप्रक्रिया

        BCom में न्यूनतम 48% अंक प्राप्त करनेवाला विद्यार्थी MCom के किसी भी विषय में प्रवेश ले सकता है। राजस्थान विश्वविद्यालय द्वारा MCom के प्रत्येक पाठ्यक्रम में सीटों की संख्या निर्धारित है। कॉलेज में ‘पहले आओ पहले पाओ’ के आधार पर प्रवेश दिया जाता है। ग्रेजुएशन डिग्री का रिजल्ट निकलते ही परिष्कार कॉलेज में प्रवेश ले लेना बेहतर है।