Loading

STUDY SHEETS & SELF STUDY

 

स्टडी शीट और स्वाध्याय

  • स्टडीशीट का उपयोग हमारी शिक्षण-पद्धति का एक अत्यंत महत्त्वपूर्ण हिस्सा है। हमारे सभी शिक्षकों ने यह पाया है कि पारम्परिक भाषण-पद्धति (Lecture Method) से बहुत मेहनत करने के बावजूद भी अपेक्षित परिणाम नहीं मिल पाते किंतु स्टडी शीट के उपयोग से चामत्कारिक परिणाम प्राप्त हुए हैं।
  • PCGE के बी.कॉम विभाग द्वारा सर्वप्रथम 2014-15 में यह प्रयोग किया गया। महाविद्यालय की परीक्षा में जिसके अभूतपूर्व परिणाम देखने को मिले। 2015-16 से यह नई पद्धति PCGE एवं अंग्रेजी माध्यम वाले PIC कॉलेज में भी लागू की गई है।
  • पुस्तक के एक पाठ के महत्त्वपूर्ण बिंदुओं पर चार-चार बहुविकल्पात्मक प्रश्न बनाकर Study Sheet पर विद्यार्थियों को दे दिया जाता है। विद्यार्थी घर पर पुस्तक पढ़कर, स्टडी शीट के प्रश्नों का उत्तर ढूँढ़कर कक्षा में आते हैं और प्रश्नों के सही विकल्पों पर शिक्षक चर्चा करते हैं।
  • स्टडीशीट के उपयोग से शिक्षण-पद्धति रुचिपूर्ण, आसान, अन्त:क्रियात्मक (Interactive) तथा सभी मुख्य बिंदुओं को समाहित किए होती है।
  • यह एक ऐसी नवाचारी (Innovative) प्रणाली है जिससे छात्रों में अवबोधात्मक क्षमता का विकास होता है, सम्प्रेषण कला (Communication skill) में वृद्धि होती है तथा विषयवस्तु (Content) पर पकड़ मजबूत होती है।
  • PCGE में स्टडीशीट पद्धति को सुचारु रूप से कार्यान्वित किया जाता है जिसके तहत शिक्षकों को ग्रीष्मावकाश में अनुभवी शिक्षकों द्वारा कार्यशालाओं में प्रशिक्षित किया जाता है।
  • PCGE में अब स्टडीशीट शैक्षणिक पद्धति का बहुत असरदार साधन बन चुकी है। इससे छात्रों की मानसिक क्षमता एवं आत्मविश्वास का विकास हुआ है। शिक्षक के लिए भी यह एक बेहतरीन साधन है। छात्र स्वयं भी प्रेरित होकर अपनी विषयवस्तु की स्टडी शीट्स बनाने में रुचि दिखाते हैं।